Taking More Saturated Fat Increases Risk of Heart Diseases in Hindi


पनीर, दूध, मक्खन, मांस और चॉकलेट खाना अगर आपको ज्यादा अच्छा लगता है तो सावधान हो जाइए। एक नई स्टडी में कहा गया है कि इस तरह के सैचुरेटेड फैट या संतृप्त वसा अम्ल वाले पदार्थों के सेवन से दिल के रोगों की संभावनाएं बढ़ सकती हैं।

स्टडी में कहा गया है कि एक प्रभावी निवारक दृष्टिकोण के तौर पर इन पदार्थो की जगह अनसैचुरेटेड फैट या असंतृप्त वसा, साबुत अनाज, कार्बोहाइड्रेट या वनस्पति प्रोटीन लेना चाहिए।

निष्कर्षों से पता चलता है कि संतृप्त वसा अम्लों के संयुक्त समूह से प्राप्त होने वाली हर रोज एक प्रतिशत दैनिक खपत ऊर्जा को बहुअसंतृप्त वसाओं, एकल असंतृप्त वसाओं, साबुत अनाज, कार्बोहाइड्रेट या वनस्पति प्रोटीन से रिप्लेस करने से दिल के रोगों के जोखिम में 6-8 प्रतिशत की कमी आने का अनुमान है।

हॉर्वर्ड टी.एच.चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में डॉक्टरेट के छात्र जेंग जांग ने कहा, ‘आहार की सिफारिशों में पूरे संतृप्त वसा को असंतृप्त वसा या साबुत अनाज कार्बोहाइड्रेट से बदले जाने की बात होनी चाहिए, यह हृदय-धमनी से संबंधित रोगों को रोकने के तौर पर प्रभावी कदम होगा।’

 

Image source: shutterstock&HealthandFitness

Read more Health news in Hindi

(function(d, s, id) {
var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0];
if (d.getElementById(id)) return;
js = d.createElement(s); js.id = id;
js.src = “http://connect.facebook.net/en_US/sdk.js#xfbml=1&version=v2.6&appId=2392950137”;
fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs);
}(document, ‘script’, ‘facebook-jssdk’));
!function(f,b,e,v,n,t,s){if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?
n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};if(!f._fbq)f._fbq=n;
n.push=n;n.loaded=!0;n.version=’2.0′;n.queue=[];t=b.createElement(e);t.async=!0;
t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e)[0];s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window,
document,’script’,’https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘1785791428324281’);
fbq(‘track’, “PageView”);
fbq(‘track’, ‘ViewContent’);
fbq(‘track’, ‘Search’);



Read The Source Article

We will be happy to hear your thoughts

Leave a Reply

My Blog